गुजरात : मुसलमानों ने साफ़ किये मंदिर, कर रहे हैं बाढ़ पीड़ितों की मदद


देश के कई राज्यों में भयंकर बाढ़ आई हुई है, असम, राजस्थान, गुजरात और उड़ीसा बाढ़ की चपेट में हैं। गुजरात में तो स्वयं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हवाई जायजा लिया और केन्द्र सरकार ने 500 करोड़ का पैकेज दिया है, जो बहुत ही कम है। नुक़सान इससे कहीं अधिक हुआ है। लोग अपना घर छोड़ने को मजबूर हैं और खाना खाने के लिए सरकार और दूसरे सामाजिक संगठनों पर निर्भर हैं।

लेकिन मुल्क में जब नफरत का माहौल फैलाया जा रहा है हिंदुओं को मुस्लिम के खिलाफ और मुस्लिम को हिन्दू के खिलाफ भड़काकर अपनी राजनीतिक रोटियां सेकी जा रही हों ऐसे समय में गुजरात में आई प्राकृतिक आपदा ने हिन्दू-मुस्लिम सबको एक कर दिया है.

यहां मुस्लिम नौजवान ना सिर्फ लोगों की मदद कर रहे हैं, अपितु मंदिरों में जो पानी भर जाता है उसे भी वही साफ करते हैं और मंदिर की साफ सफाई का पूरा ध्यान रखते हैं जिससे कि पूजा पाठ करने वाले लोगों को पूजा अर्चना करने में दिक्कत ना हो। इसे यहाँ इसे एक मिसाल के तौर पर देखा जा रहा है और लोग आपस में मिलकर राह रहे हैं।

गुजरात में आर्मी के साथ-साथ कई अन्य संगठन और स्वयंसेवक के लोगों की मदद कर रहे हैं। विश्व हिंदू परिषद, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और राष्ट्रीय दलित मोर्चा जैसे संगठन लोगों की मदद में लगे हुए हैं और लोगों के खाने,रहने और सोने के लिए मुहैया करा रहे हैं।

Leave a Reply